आयुष्मान भारत योजना लिस्ट 2020 | SEARCH ONLINE आयुष्मान भारत योजना लाभार्थी सूची (नाम खोजें) | AYUSHMAN BHARAT-JAN AROGYA LIST

आयुष्मान भारत योजना सूची (List) |Ayushman Bharat Jan Arogya List 2020

आरोग्य ही जीवन हैं अर्थात बीमारियों से मुक्त जीवन ही जीने योग्य है हमारे देश के ऋषियों द्वारा दिए गये इसी मंत्र के कार्यवन में उठाये गये एक कदम का नाम है आयुष्मान भारत ! 

तो आईये जानते हैं हम आज आयुष्मान भारत यानि प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के बारे में…

आयुष्मान भारत योजना या प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, भारत सरकार की एक स्वास्थ्य योजना है, जिसे 25 September 2018 को पूरे भारत मे लागू किया गया था.

Ayushman Bharat Yojana
Ayushman Bharat Yojana

क्या है Ayushman Bharat Yojana, जो आपका ₹5 लाख तक का इलाज मुफ्त कराएगी Jan Arogya Narendra Modi

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने 23 सितंबर 2018 को इसकी शुरुआत की थी और पंडित दीनदयाल उपध्याय के जन्मदिवस 25 सितंबर 3018 को पूरे देश मे लागू किया गया है सितंबर 2019 तक, 18,059 अस्पतालों को सूचीबद्ध किया गया है, 4,406,461 लाख से अधिक लाभार्थियों को लाभावंतित किया गया है और 10 करोड़ से अधिक ई-कार्ड जारी किए गए हैं।

आयुष्मान भारत योजना तथा राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना, जिसे अब प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY) के रूप में जाना जाता है ,यह एक ऐसी योजना है जिसका उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर भारत के नागरिकों को प्राथमिक, माध्यमिक और तृतीयक स्वास्थ्य तथा आरोग्य की सुविधाओं का पूर्ति करना है।  

यह स्वास्थ्य सेवा पूरी तरह से कैशलेस है पीएम जन आरोग्य योजना के लाभार्थियों को एक ई-कार्ड प्रदान किया जाता  है, जिसका उपयोग देश की किसी भी अस्पताल में स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ उठा सकतें हैं।

प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PM-JAY) – आयुष्मान भारत योजना (ABY) के लिए पात्रता :

  • जो लोग गरीब है एवं प्राथमिक सुविधाओं से वंचित हैं
  • इस योजना का लाभ देने के लिए सामाजिक आथिर्क जाति गत जनगणना को आधार बनाया गया है।
  • प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PM-JAY) का लाभ लेने के लिए परिवार की लोगो की सँख्या या उम्र की कोई सीमा तय नहीं है।

आवेदन की प्रक्रिया :

  • आप, सरकारी, सूचिबद्ध निजी अस्पतालों में या किसी भी नजदीकी CSC (Common Service Centre) से आयुष्मान भारत ई-कार्ड बना सकतें हैं।

आयुष्मान भारत योजना के लाभ :

  • देश के करीब 10 करोड़ लोगों को PM-JAY का लाभ मिलेगा।
  • भारत के सभी पिछड़े आर्थिक तथा सामाजिक रूप से वंचित लोगो के लिए यह योजना अत्यंत ही उपयोगी है।
  • आयुष्मान भारत योजना (ABY) के अंतर्गत मिलने वाली सुविधाएँ :
  • आयुष्मान भारत के तहत देश के लगभग 10 करोड़ गरीब परिवार के 50 करोड़ लोगों को 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा दिया जा रहा है।
  • प्रति परिवार हर वर्ष 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा की व्यवस्था 
  • इस योजना के अंतर्गत अस्पताल में भर्ती होने से पहने और बाद का खर्च भी वहन किया जाएगा तथा ईलाज के लिये किये गए यात्रा का भी ख़र्च भी शामिल है।
  • किसी भी बीमारी में मेडिकल जाँच/ऑपरेशन तथा ईलाज PM-JAY के अंतर्गत कवर होते है।
  • इस योजना के तहत देश के किसी भी अस्पताल में उपचार कराया जा सकता है।
  • पूरी तरह से कैशलेश सुविधा पेपरवर्क की कोई झंझट नही ।

आयुष्मान भारत योजना के कुछ महत्वपूर्ण तथ्य :

आयुष्मान भारत योजना (ABY) पर केंद्र सरकार तथा राज्य सरकार दोनों इस योजना के लागत को आपस मे साझा करते हैं

राज्यों की हिस्सेदारी आवश्यक है

केंद्र सरकार द्वारा फण्ड सीधे राज्य सरकारों को भेजी जाती है।

इसकी अनुमानित राशि लगभग 12 हज़ार करोड़ रुपये है।

आयुष्मान भारत योजना में कौन-कौन सी बीमारियां हैं शामिल?

  • आयुष्मान भारत योजना (ABY) में प्रति परिवार हर साल 5 लाख रुपये तक का स्वास्थ्य बीमा मिल रहा है.
  • मोदीकेयर (PM-JAY) में पुरानी बीमारियों को भी कवर की जाती हैं.
  • किसी बीमारी की स्थिति में अस्पताल में एडमिट होने से पहले और बाद के खर्च भी कवर किये जा रहे हैं.
  • PM-JAYमें ट्रांसपोर्ट पर होने वाला खर्च भी शामिल है.
  • किसी बीमारी की स्थिति में सभी मेडिकल जांच/ऑपरेशन/इलाज आदि PM-JAYके तहत कवर होते हैं.
  • जो चीज स्वास्थ्य बीमा के दायरे से बाहर हैं, उनकी लिस्ट बहुत छोटी  ..

प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PM-JAY) की अधिक जानकारी प्राप्त करने के कुछ महत्वपूर्ण माध्यम :

आप आयुष्मान भारत योजना (ABY)  के लाभार्थी हैं कि नही ये जानने के लिए टॉल फ्री नंबर 14555/1800 111 565 पर संपर्क कर सकतें हैं।

अपने मोबाईल में आयुष्मान भारत योजना से जुड़ी सभी जानकारी प्राप्त करने के लिए, आप गूगल प्ले स्टोर से आप आयुष्मान भारत PM-JAY ऐप्प डाउनलोड कर सकतें हैं।

भारत सरकार का मानना है कि इस योजना से देश की एक बहुत बड़ी आबादी को स्वास्थ्य समस्या से मुक्ति मिलेगी और आरोग्य और आयुष्मान भारत का लक्ष्य देश पूरा कर सकेगा।

Share this post:

Leave a Comment