मध्यप्रदेश सरकार की किसानों के बैंक ऋण को लेकर नयी घोषणा

मध्यप्रदेश के किसानों को बैंक ऋण में मिली बड़ी रियायत Madhya Pradesh Kisan Bank Loan Concession News

Madhya Pradesh Kisan Bank Loan Concession News

भोपाल कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किसानो के लिए अब एक नयी घोषणा कर दी है जिससे किसानो को एक बड़ी राहत मिली है.

मध्यप्रदेश किसानों के बैंक ऋण को बैंक ऋण में मिली बड़ी रियायत

मध्यप्रदेश सरकार ने किसानो के लिए एक योजना चलाई गयी थी जिसके द्वारा जिन किसानो ने बैंको से ऋण लिया है और उन किसानो ने ऋण राशि को फसल ऋण बैंक में तय समय सीमा में जमा करा दी है. किसानो की जो ब्याज राशि होती है उस राशि को सब्सिडी के रूप में किसानो वापिस लौटा दी जाती है जिसकी अंतिम तारीख 31 मार्च 2020 है. लेकिन बहुत से किसान लॉकडाउन के चलते वो अपनी ऋण राशि  को फसल ऋण बैंक में जमा नहीं कर पाए है. इसको देखते हुए कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने इस की तारीख बढ़ा कर 31 मई कर दी गयी है.

Check More – मध्यप्रदेश किसान योजना

इसका फायदा ये होगा की जिन किसानो ने अभी तक ऋण राशि को बैंक में जमा नहीं करा पाए है वो एक 1 मई 2020 तक अपनी ऋण राशि जमा करा सकते है और उन किसानो को भी ऋण राशि का जो ब्याज होता है उसकी सब्सिडी का लाभ दिया जायेगा इससे पहले इसकी अंतिम तारीख 31 मार्च थी.

क्या 31 मई बाद ऋण राशि जमा करने पर ब्याज राशि की सब्सिडी नहीं मिलेगी?

सरकार ने साफ़ कर दिया है की किसानो ने जो ऋण राशि ले रखी है वो 31 मई 2020 तक आराम से जमा करा सकता है और ब्याज की राशि सब्सिडी के रूप में वापिस दे दी जाएगी. लेकिन अगर कोई किसान 31 मई तक ऋण राशि बैंक में जमा नहीं करता है और मई के बाद पैसे जमा करता है तो उस किसान को ब्याज राशि में मिलने वाली सब्सिडी का लाभ नहीं दिया जायेगा. जो अन्य किसान को समय पर ऋण राशि चुकाने पर ब्याज राशि को सब्सिडी के रूप वापिस दे दी जाती है वो लाभ उन किसानो को नहीं दिया जायेगा.

साथ में उन्होंने ये भी कहा की ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोगो को किसी भी तरह की खाद्य सामग्री की कमी नहीं होगी उसके लिए उचित मूल्य की दुकान पर तीन महीने का अतिरक्त राशन भेजा जा रहा है. उन्होंने कहा प्रदेश की जनता को तीन महीने तक निःशुल्क राशन दिया जायेगा जिसमे प्रति व्यक्ति 5 किलो चावल, 5 किलो गेंहू दिया जायेगा साथ में एक किलो दाल भी निःशुल्क दी जाएगी.

Leave a Comment