हिमाचल प्रदेश के आठ लाख किसानों के खातों में सोमवार से आएंगे दो हजार रुपये

By | April 11, 2020

मोदी सरकार हिमाचल प्रदेश के आठ लाख किसानों के खातों में सोमवार को आठ लाख किसानो के बैंक अकाउंट में भेजगी 2-2 हज़ार रूपये Himachal Pradesh PM Kisan Yojana 2000 Rupees

Himachal Pradesh PM Kisan Yojana 2000 Rupees

हिमाचल प्रदेश के किसानों के खातों में सोमवार को आएंगे दो हजार रुपये

जंहा कोरोना वायरस के कारण पूरी दुनिया में लॉकडाउन किया गया है वंहा भारत में भी 21 दिनों का लॉकडाउन किया है जिसके कारण गरीबो और किसानो को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है जिसके चलते मोदी सरकार  ने गरीब परिवारों के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण राहत कोष की घोषणा की थी जिसमे गरीब परिवारों को अलग अलग तरह से मदद दी जा रही है जिसके लिए 1 लाख 70 हज़ार करोड़ रूपये का बजट पास किया गया था।

इसी के बीच मोदी सरकार ने किसानो के लिए भी एक घोषणा की थी जिसमे किसानो को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत दूसरे चरण की दूसरी क़िस्त जारी करने की घोषणा की है जिसमे से आधे से ज्यादा किसानो को उनकी दूसरी किस्त भेज दी गयी है और हिमाचल प्रदेश के आठ लाख किसानों के खातों में 2-2 हज़ार रूपये की दूसरी क़िस्त सोमवार तक भेज दी जाएगी ।

जिन किसानो ने पहली बार प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लिए आवेदन किया है उन किसानो को एक साथ मिलेगी तीनों किस्त

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के पोर्टल के अनुसार जिन किसानो ने PM किसान सम्मान निधि योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कर दिया है लेकिन उन किसानो का आवेदन अभी तक स्वीकार नहीं किया गया है या किसी कारण उनके आवेदन को रिजेक्ट कर दिया गया है  या किसी अन्य कारण आपका आवेदन स्वीकार करने में समय लग रहा है तो जब भी किसान का आवेदन स्वीकार किया जायेगा.

तो उन किसानो को उनके आवेदन करने की तारीख के हिसाब से क़िस्त भेजी जाएगी मतलब अगर आपने आवेदन मार्च से दिसंबर के बीच में किया है और आपका आवेदन स्वीकार जनवरी या फरवरी में किया गया है तो आपको दो या तीन क़िस्त एक साथ दे दी जाएगी क्योंकी PM किसान सम्मान निधि योजना के तहत  क़िस्त हर 4 – 4 महीने के बाद 2-2 हज़ार रूपये की तीन क़िस्त भेजी जाती है जो हर साल प्रत्येक किसान परिवार को 6 हज़ार रूपये दिए जाते है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *