राजस्थान सरकार की नई घोषणा सभी महिलाओं को मिलेंगे 1 हज़ार रूपये

राजस्थान सरकार की नई घोषणा सभी महिलाओं को मिलेंगे 1 हज़ार रूपये – Rajasthan Lockdown Scheme For Women

Rajasthan LockDown Scheme For Women

आप सभी को पता होगा की 21 दिन लॉक डाउन के दौरान राजस्थान सरकार ने 2 हज़ार करोड़ रूपये का बजट पास किया था जिसमे राज्य के सभी जरूरत मंदों लोगो के लिए इस रूपये को खर्च किया जाना था जिसमे एक घोषणा ये भी थी जिसमे राजस्थान की सभी महिलाओं को 1 हज़ार रूपये देने की बात कही गयी थी जो अब सभी महिलाओं के बैंक अकाउंट में पैसे भेज भी दिए गए है जिन महिला को अभी तक 1 हजार रूपये का लाभ नही मिला है वो उन महिलाओं को लाभ अप्रैल के पहले सप्ताह तक भेज दिया जायेगा.

राजस्थान सरकार के द्वारा की गई घोषणाये :-

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के द्वारा राज्य के लोगो के लिए कई बड़ी घोषनाये की गयी थी जिसमे राज्य के सभी लोगो के लिए नि:शुल्क राशन सामग्री उपलब्ध करवाना था और जिन लोगो के राशन कार्ड नही बने हुए है उन लोगो के लिए नि:शुल्क खाद्य सामग्री उपलब्ध करवाना था ।

साथ में उन्होंने राज्य के सभी पेंशनदारियो के लिए भी एक बड़ी घोषणा की थी जिसमे राज्य के सभी पेंशनदारियो को उनकी पेंशन तीन महीने की एक साथ दे दी जाएगी जैसे:-वृद्धा पेंशन योजना,विकलांग पेंशन योजना,सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना ।

राज्य के सभी महिलाओ के लिए भी एक घोषणा की थी जिसमे राजस्थान की सभी महिलाओ को 1-1 हजार रूपये देने की घोषणा की थी जो अब महिलाओ को उनके अकाउंट में भेजने शुरू भी कर दिए है ।

किन किन महिलाओ को 1 हजार रूपये का लाभ दिया जायेगा:-

1 हजार का लाभ उन ही महिलाओ को दिया जा रहा है जिनका भामाशाह कार्ड बना हुआ है और ये भामाशाह कार्ड पिछली बीजेपी सरकार में बनाये गये थे जो राज्य के प्रत्येक महिला मुखिया के नाम से बनाया गया था ये पैसे भामाशाह कार्ड के माध्यम से उनके बैंक अकाउंट में भेजे जा रहे है क्योंकी बैंक अकाउंट को भामाशाह कार्ड से जोड़ा गया है इसलिए पैसे महिला के पैसे डायरेक्ट बेनिफिट ट्रान्सफर (DBT) के माध्यम से सीधे उनके बैंक अकाउंट में भेजे गये है ।

जिन महिलाओ को 1 हजार रूपये उनके बैंक अकाउंट में नही आये है तो उनके बैंक अकाउंट में अप्रैल के पहले सप्ताह तक आ जायेगा ।

किन किन महिलाओ को 1 हजार रूपये का लाभ नही दिया जायेगा:-

जो महिलाये राजस्थान की मूल निवासी नही है उनको इसका का लाभ नही दिया जायेगा ।

जिन महिलाओ के भामाशाह कार्ड नही बने हुए है उनको लाभ नही दिया जायेगा ।

भामाशाह कार्ड कैसे बनवाये :-

सबसे पहले हम आपको बता दे ये भामाशाह कार्ड को पिछली बीजेपी सरकार के द्वारा बनाये गये थे लेकिन अब कांग्रेस सरकार के आने के बाद भामाशाह कार्ड बनाने बंद कर दिए और उसकी जगह जनआधार कार्ड बनाने शुरू कर दिए है ये भी महिला मुखिया के नाम से बनाया जाता है इसलिए जिन महिला के पहले से भामाशाह कार्ड बने हुए है उन भामाशाह कार्ड को जनआधार कार्ड में बदल दिया है.

ये जो जनआधार कार्ड बनाये गये है भामाशाह कार्ड के  डाटा के आधार पर ही बनाया गया है इसलिए जो पुराने वाला भामाशाह कार्ड थे वो 31 मार्च 2020 तक ही मान्य था उसके बाद इस कार्ड को बंद कर दिया गया है और 1 अप्रैल 2020 से जनआधार कार्ड लागु किया गया है क्योंकी सरकार के द्वारा जन आधार कार्ड सभी लोगो को पहले ही जारी कर चुकी है इसलिए अब आपको भामाशाह कार्ड की जगा जन आधार कार्ड बनाना होगा ।

नया जन आधार कार्ड कैसे बनवायें?

उसके लिए आपको सबसे पहले आपके नजदीकी ई-मित्र पर जाना होगा और आपको वंहा से नया जन आधार कार्ड बनवाने के लिए वंहा से आवेदन करना होगा और आवेदन करने के बाद एक महीने के भीतर आपका जन आधार कार्ड बना दिया जायेगा इसके बारे में आपको सुचना आपके मोबाइल पर मैसेज के द्वारा दे दी जाएगी ।उस मैसेज में आपके जनआधार कार्ड के नंबर भी आपको भेज दिया जायेगा तो आप उस नंबर को दिखा कर ई-मित्र से जनआधार कार्ड उसको निकलवा सकते है ।

जन आधार कार्ड बनाने के लिए जरूरी दस्तावेज:-

महिला मुखिया के नाम का आधार कार्ड |
बैंक पासबुक|
राशन कार्ड |
परिवार के सभी सदस्य के आधार कार्ड |
परिवार के सभी सदस्य के बैंक पासबुक |
महिला मुखिया की फोटो |
और परिवार के सभी सदस्यों की एक एक फोटो |
इन सभी डॉक्यूमेंट के एक एक छायाचित्र लगाना होगा ।

Share this post:

Leave a Comment