प्रधानमंत्री वन धन योजना 2020: ऑनलाइन आवेदन PM Van Dhan Yojana, PMVDY पात्रता

Pradhanmantri Van Dhan Yojana Apply | वन धन योजना ऑनलाइन आवेदन | Van Dhan Yojana Registration | PM वन धन योजना 2020 सम्पूर्ण जानकारी, पात्रता, आवेदन फॉर्म

हमारे देश में लाखो की संख्या में आदिवासी जगंलो में निवास करते है जो रोजगार की तलाश में रहते है। इसलिए मोदी सरकार के द्वारा आदिवासीयो को रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए प्रधानमंत्री वन धन योजना 2020 को शुरू किया गया है। वैसे तो आदिवासी समुदाय अपना जीवन जंगलो में ही गुजारते है और वनों में उगाई जाने वाली वस्तु को बहुत कम दाम में बेच कर अपना जीवन निर्वाह करते है जिससे उनको कोई ज्यादा कमाई नहीं हो पाती है। क्योंकि वो अपने वस्तु को उचित दाम पर बेच नहीं सकते है उसका एक कारण ये भी है की आदिवासी समाज आज भी शिक्षा से वंचित है जिसके कारण आज भी आदिवासी समाज पिछड़ा हुआ है। इसलिए Pradhanmantri Van Dhan Yojana 2020 के द्वारा आदिवासी समाज के युवाओ को ट्रेनिंग दी जाएगी। ताकि वनों में उगाई जाने वाली वस्तु का उचित दाम कमाया जा सके जिससे उनके जीवन स्तर में सुधार किया जा सके।

PM Van Dhan Yojana 2020
प्रधानमंत्री वन धन योजना 2020: ऑनलाइन आवेदन PM Van Dhan Yojana, PMVDY पात्रता

क्या है वन धन योजना (PM Van Dhan Yojana)

PM वन धन योजना को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा 14 अप्रैल 2018  को बाबा भीमराव अंबेडकर की जयंती पर छत्तीसगढ़ में शुरू किया गया था। इस योजना के द्वारा वन की वास्तविक संपत्ति का उपयोग करके आदिवासी समुदाय के लोगो के लिए आजीविका उत्पादन करना। इसके लिए आदिवासी समुदाय के लोगो को पैकेजिंग व मार्केंटिंग के ट्रेनिंग दी जाएगी ।जिससे उनके आय में वृद्धि होगी इसके लिए सबसे पहले इन लोगो को PM Van Dhan Yojana 2020 के माध्यम से कौशल उन्नयन और क्षमता निर्माण के लिए प्रशिक्षण दिया जायेगा। इसके लिए प्रौद्योगिकी और आईटी की मदद भी ली जाएगी व वनो से प्राप्त उत्पादों की सम्पूर्ण जानकारी दी जाएगी।

Pradhan Mantri Van Dhan Yojana [PMVDY] Highlights

योजना का नामप्रधानमंत्री वन धन योजना
इनके द्वारा शुरू की गयीप्रधानमंत्री
लाभार्थीदेश के आदिवासी
उद्देश्यदेश के आदिवासी जनजाति समुदाय के जीवन यापन को बेहतर बनाना
ऑफिसियल वेबसाइटhttp://trifed.in/

प्रधानमंत्री वन धन योजना 2020 के उद्देश्य

  • इस योजना के माध्यम से आदिवासी समाज के जीवन स्तर को ऊँचा उठाना है।
  • इस योजना के माध्यम से आदिवासी समाज की आय बढ़ाना है इसके लिए हर जिले में 300 लोगो को ट्रेनिंग दी जाएगी जिसमे हर जिले में 15 ट्रेनिंग सेण्टर खोले जायेंगे जिसमे हर पंचायत में से 20 लोगो का समूह बनाया जायेगा।
  • उत्पादों का सही दाम उपलब्ध करवाना है और बाजार में उत्पादों का भाव कम ज्यादा होता रहता है।
  • जिसमे कई बार आदिवासी को उचित दाम नहीं मिलता है तो जिससे आदिवासियों को नुकसान होता है उसका मुआवजा TRIFED (Tribal Cooperative Marketing Development Federation of India) के द्वारा दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री वन धन योजना (PMVDY) के लाभ

  • प्रधानमंत्री वन धन योजना 2020 के जरिये जनजातिये युवाओ को फूल के भंडरण, ईमली, महुआ, ब्रशवुड, शहद, केन्टस, टसर व आदिवासी इलाको में पाई जाने वाली जड़ी बूंटियो को रख रखाव कैसे करना है, उसकी जानकारी दी जाएगी।
  • इसके अलावा मार्केट में इन उत्पादों की मार्केटिंग कैसे की जाएगी उसकी जानकारी भी दी जाएगी।
  • इस योजना के माध्यम से जनजातिये क्षेत्रो के लोगो को रोजगार उपलब्ध करवाकर उनकी आय में बढ़ोतरी करना है।
  • इस योजना के द्वारा देश के 45 लाख आदिवासियों को लाभ मिलेगा।
  • इस योजना के माध्यम से युवाओ को प्रशिक्षित करना है।

इन राज्यों में हैं सबसे ज्यादा आदिवासी

आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, असम, बिहार, छत्तीसगढ़, गोवा, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, जम्मू और कश्मीर, झारखंड, कर्नाटक,  मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, ओडिशा, राजस्थान, सिक्किम, तमिलनाडु, तेलंगाना, त्रिपुरा, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, दादर और नगर हवेली, दमन और दीव, लक्षद्वीप और पुदुचेरी।

PM Van Dhan Yojana 2020 का लाभ लेने के लिए जरूरी दस्तावेज (पात्रता )

  • इस योजना का लाभ सिर्फ देश के आदिवासियों को ही दिया जायेगा।
  • आधार कार्ड।
  • राशन कार्ड।
  • दो पासपोर्ट साइज फोटो।

PM Van Dhan Yojana में बनेंगे समूह

PM Van Dhan Yojana के अंतर्गत देशभर के वनों में पाए जाने वाली वन संपदा से वंहा की जनजातियों के जीवन स्तर को ऊपर उठाने के लिए प्रत्येक जिले में वन धन विकास केंद्र जनजातीय समुदाय बनाये जायेंगे। इनमें से हर एक केंद्र के माध्यम से 10 जनजातीय स्वयं सहायता समूहों का निर्माण किया जायेगा और प्रत्येक समूह में करीब 30 जनजातीय संग्रहकर्तााओं को शामिल किये जायेंगे। इन 30 आदिवासियों को सरकार द्वारा प्राथमिक प्रंसस्करण और मूल्यवर्धन की सुविधा के साथ-साथ कोशन उन्नयन और क्षमता निर्माण का प्रशिक्षण भी दिया जायेगा।

वन धन योजना 2020 का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे ?

संभावित प्रश्नोत्तर:-

संभावित प्रश्नसंभावित उत्तर
प्रश्न 1:क्या है पीएम वन धन योजना?
उत्तरभारत के वनों में पायी जाने वाली अपार वन संपदा का दोहन करके वंहा के आदिवासियों के लिए आजीविका हेतु रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए पीएम वन धन योजना केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गयी योजना है। इस योजना से एक वर्ष में लगभग 45 लाख आदिवासियों को आजीविका देने का लक्ष्य रखा गया है।
प्रश्न 2:सरकार की किस एजेंसी द्वारा यह योजना संचालित है ?
उत्तरइस योजना को Trifed द्वारा संचालित किया जा रहा है।
प्रश्न 3:योजना के अंतर्गत कितने वन धन केंद्र स्थापित किये जाएंगे?
उत्तरशुरुवात में हर जिले में 15 केंद्र स्थापित किये जायेंगे और बाद में जरुरत पड़ने पर और भी वन धन सेण्टर खोले जायेंगे।
प्रश्न 4:PM Van Dhan Scheme किनको लाभ देने के लिए शुरू की गयी है ?
उत्तरदेशभर के समस्त आदिवासी।

अवश्य पढ़ें:-

पीएम किसान हेल्पलाइन नंबरClick Here
प्रधानमंत्री किसान योजनाक्लिक करें
सभी सरकारी योजनाClick Here
हरियाणा सरकारी योजनाएंClick Here
All Pradhan Mantri Yojanaयँहा देखें

Share this post:

Leave a Comment